WWW.DOCTORBHAIYA.COM

Saaz 500 Tablet

 

साज़ टैबलेट एक दवा है जिसका उपयोग जोड़ों (संधिशोथ, सोरियाटिक गठिया, एंकिलॉज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस), त्वचा (सोरायसिस), और आंत्र (अल्सरेटिव कोलाइटिस, क्रोहन रोग) की विभिन्न सूजन स्थितियों के इलाज के लिए किया जाता है।

  1. General Information
    Contains
    Sulfasalazine (500mg)<H3 class=bodyRegular>Contains</H3>
    Manufacturer
    Ipca Laboratories Ltd<H3 class=bodyRegular>Manufacturer</H3>
    Storage
    Store below 30°C.
  2. उत्पाद परिचय
    साज़ टैबलेट को भोजन के साथ लेना बेहतर होता है.  इससे आपको पेट की खराबी से बचने में मदद मिलेगी।  इसका अधिकतम लाभ पाने के लिए आपको इसे नियमित रूप से और हर दिन एक ही समय पर लेना चाहिए।  अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार इसे लेते रहें और बेहतर महसूस होने पर भी खुराक पूरी करें।  इसे भरपूर मात्रा में पानी के साथ लेने से आप किडनी की पथरी जैसी किडनी की समस्याओं से बच सकते हैं।

    इस दवा के उपयोग से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते हैं जैसे मतली, सिरदर्द, भूख न लगना, उल्टी, दस्त और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल असुविधा।  यदि इनमें से कोई भी दुष्प्रभाव समय के साथ ठीक हो जाता है या बदतर हो जाता है, तो आपको अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।  आपका डॉक्टर इन लक्षणों को कम करने या रोकने के तरीकों में मदद कर सकता है।

  3. Uses of Saaz Tablet
    Treatment of Rheumatoid arthritis
    Treatment of Ulcerative colitis
    Treatment of Crohn’s disease
    Treatment of Ankylosing spondylitis
    Treatment of Psoriatic arthritis
  4. Side effects of Saaz Tablet
    Most side effects do not require any medical attention and disappear as your body adjusts to the medicine. Consult your doctor if they persist or if you’re worried about them
    Common side effects of Saaz
    Diarrhea
    Gastrointestinal discomfort
    Headache
    Loss of appetite
    Nausea
    Oligospermia (low sperm count)
    Vomiting
  5. अस्वीकरण www.Doctorbhaiya.comपर दी हुई संपूर्ण जानकारी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गयी हैं। हमारा आपसे विनम्र निवेदन हैं की किसी भी सलाह / उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करे। इस स्वास्थ्य से सम्बंधित वेबसाइट का उद्देश आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना और स्वास्थ्य से जुडी जानकारी मुहैया कराना हैं। आपके चिकित्सक को आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानकारी होती हैं और उनकी सलाह का कोई विकल्प नही है

Leave a Comment